31.1 C
Delhi
Saturday, October 1, 2022

जिंदगी मे प्यार फिरसे लौटा है , क्या करू?

मैं शामल(नाम बदल दिया है ), 32 वर्षीय विधवा हु। प्यार फिरसे लौटा है तो मुझे सलाह की जरूरत है।

मेरा 1 बेटा है। शादी के पहले मेरा प्रेमी मायके के घर के पड़ोस मे ही रहता है। कुछ साल

पहले हमारी बिरादरी अलग होने के कारण हमने अपने अपने घरों मे बताया भी नहीं, और हम दोनों की

शादी हो गई। मैं उसको भूल भी गई थी।मैं अपनी पति के साथ बेहद खुश थी,पर एक हादसे मे उनकी

मौत हो गई। अभी समझ या रहा है की अकेले एक बेटे को संभालना  कितना मुश्किल है।

ससुराल मे बहुत मुश्किल हो रहा था। घरवाले मुझे पैसे भी नहीं देते थे। दूसरों के घर में काम करके

मै पेट भर रही थी। अभी मैं मायके मे ही रहती हु अपने बेटे के साथ।

यह पढ़ क्या?: पुरुष गूगल पर सबसे ज्यादा क्या सर्च करते हैं?most search on google by men

अभी मैं फिरसे उसी को मिली, क्यूंकी उसका घर पे आना जाना लगा रहता है। वह मुझसे शादी करना चाहता है।

उससे पता चल की वो अपनी शादीशुदा जिंदगी मे खुश नहीं है। मेरे मायके वाले भी बोल रहे है की दूसरी शादी करलो,

अभी पूरी जिंदगी है तुम्हारे सामने। मुझे समझ नहीं आ रहा की मैं क्या करू?

हमारा सूझाव: जिंदगी मे प्यार फिरसे लौटा है

शामल जी पहले आपने बिल्कुल सही निर्णय लिया था। तब आपने आपके परिवार के बारे मे सोचा था और

घरवालों को बताया तक नहीं। शादी करके एक खुशहाल जिंदगी शुरु करना बिल्कुल सही निर्णय था। पर

अभी आपने फिर से उस युवक के साथ बातचीत करके बड़ी गलती की है,इसे आप तुरंत बंद कर दे।

उसके अगर बच्चे होंगे तो उनपर भी काफी बुरा प्रभाव पड़ेगा। बिरादरी की समस्या जो अपने बताई थी वो तो

अभीभी है। बेहतर होगा की आप किसी दूसरे व्यक्ति के साथ शादी कर ले पूरे परिवार की सहमति के साथ।

आप भावनाओं के साइड मे रखके दिमाग से निर्णय ले। अब आपको सिर्फ आपके बारे मे ही नहीं, बल्कि आपके

बेटे के बारे मे भी सोचना है। वह आपकी जिम्मेदारी है।

ये भी पढे बांझपन की वजह से मुझे अलग किया जाता है। बांझपन का इलाज हो तो बताइये। – (myjivansathi.com)

विनम्र निवेदन

दोस्तों, अगर आप इनको कोई सूझाव देना चाहते है तो जरूर दे, आपकी एक राय उनकी जिंदगी बदल सकती है।

अगर आपकी भी ऐसी कोई समस्या है तो हमे ईमेल कर सकते है और । हमारे एक्सपर्ट से सलाह पाए।

Related Articles

2 COMMENTS

  1. जब तक आप के दिल में प्रेमी के प्रति कोई शक है उसे दूर करके ही शादी करना। प्यार हुआ था तो शादी ना करने के कारण अभी भी वही हैं तो निश्चित ही उसमे भगवान की मर्जी शामिल नहीं है। पहले भी आपको गलती करने से ऊपरवाले ने रोका था तो आप वही गलती क्यूं दोहराना चाहती हैं। अपने माता पिता की सलाह मशविरा से चले तो बेहतर होगा और अपने बताया कि आपका प्रेमी भी शादीशुदा है, तो क्यों दूसरी स्त्री का घर तोड़ना चाहती हैं। समझदारी से निर्णय करें। किसी का घर तोड़कर कभी खुश नहीं रह सकेंगी। कोई और रिश्ता तलाश करें। धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles