32.1 C
Delhi
Thursday, May 19, 2022

मंगलसूत्र का महत्व Importance of Mangalsutra

मंगलसूत्र का महत्व Importance of Mangalsutra

क्या आपको पता हैं?  मंगलसूत्र Mangalsutra सिर्फ सुहाग की निशानी नहीं है ,

यह सेहत के लिए वरदान भी है।

मंगलसूत्र का महत्व Importance of Mangalsutra

हमारे भारत देश में कई तरह की परम्पराएं निभाई जाती है।

हमारे समाज में शादी का अत्यधिक महत्व होता है।

शादीशुदा महिला को भारत में काफी आदर की निगाहों से देखा जाता है।

यहाँ शादी के समय कई तरहों की रशमे की जाती है।

यहाँपर सभी धर्मों के अपने-अपने देवी-देवताये हैं,

और सभी के अपने अलग रश्मों-रिवाज भी।

यह भी पढे : ऐसे शुरु हुआ गणेशोत्सव, Ganesh Chaturthi Festival History

मंगलसूत्र पहनने के फायदे Benefits of wearing Mangalsutra

मंगलसूत्र धारण करनें से होता है सेहत को फायदा

हिन्दू धर्म में उन्ही महिलाओं को शादीशुदा मानते है, जिनके माथे पर

सिंदूर और गले में मंगलसूत्र पहना होता है।

हिन्दू धर्म की सभी महिलाओं को शादी के बाद मंगलसूत्र और सिंदूर पहनते

आपने देखा होगा। पर क्या आपको पता है ? की महिलाएँ ऐसा क्यों करती हैं?

और इससे क्या फायदा है?

मंगलसूत्र पहननें से सेहत को होनें वाले फायदे Health Benefits of wearing Mangalsutra

मंगलसूत्र को पहननें से औरतों के अन्दर सकरात्मक उर्जा का संचार होता है।

जिससे उन्हे जीवन में आगे बढनें की प्रेरणा मिलती है।

यह काले मोतियों और सोनें से मिलकर बनाया जाता है।

विशेषज्ञों के अनुसार ये दोनों ही चीजें महिलाओं की सेहत के लिए बहुत ही

फायदेमंद होती हैं।

औरते जो मंगलसूत्र पहनती हैं, उसके मोतियों से हवा गुजरकर उन्हें

लगती है, उससे उनका इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है। जिससे उनकी

रोगों से लडनें की क्षमता में भी वृद्धि होती है।

आयुर्वेद भी इस बात मानता है कि सोना धारण करना स्वास्थ्य की दृष्टि से

अच्छा होता है। जो औरते मंगलसूत्र के रूप गले में सोना धारण करती हैं,

उनका हृदय और छाती मजबूत रहता है।

यह भी माना जाता है, कि मंगलसूत्र धारण करनें से

पतिपत्नी के संबंधों में मधुरता, प्यार बनाए राहत है।

काले मोते पट्टी पत्नी के रिश्ते को बुरी नजर से बचाते हैं।

ज्योतिषों की नजरिए से देखे तो स्वर्ण का अंश गुरु के सकारात्मक

प्रभाव का वाहक होता है। इससे दांपत्य जीवन सुखी होता है।

इसी प्रकार से काले मोतियों के रंग को शनि ग्रह का प्रतीक माना जाता है।

गुरु और शनि की कृपा से दांपत्य जीवन में आने वाली

बाधाओं का निवारण होता है। इससे पट्टी पत्नी में प्रेम बरकरार रहता है।

Priya Sharma
Priya Sharma
दोस्तों, क्या आप किसी की मदद करना चाहते हो? कृपया यह लेख पूरा पढ लीजिए। लेख मे दिए गए विचार मेरे अपने है। हो सकता है की इस विषय मे आपके कुछ अलग अनुभव/विचार हो। अगर आप भी कुछ सूझाव देना चाहते है तो कृपया आपकी राय comment में अवश्य दे। आपकी एक राय किसी की जिंदगी में खुशियों की बहार ला सकती है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles